Fashion

CHHATTISGARH NEWS : अमन साहू गैंग को पिस्टल सप्लाई करने वाले आरोपी को रायपुर पुलिस ने मध्यप्रदेश से किया गिरफ्तार

Chhattisgarh

रायपुर / राजधानी पुलिस ने कारोबारी की हत्या करने रायपुर पहुंचे शूटर्स को कुछ दिन पहले गिरफ्तार किया था। शूटर्स लॉरेंस विश्नोई और अमन साहू गैंग से जुड़े थे। वहीं इस मामले में शूटर्स को पिस्टल सप्लाई करने वाले आरोपी राजवीर चावला उर्फ़ मोंटू को रायपुर क्राइम ब्रांच ने मध्यप्रदेश के बड़वानी से गिरफ्तार किया है।

दरअसल थाना गंज में दर्ज अपराध क्रमांक 223/24 धारा 399, 402, 386, 120बी भादवि. एवं 25 आर्म्स एक्ट के प्रकरण में अमन साहू गैंग के 04 शुटरों 01.रोहित स्वर्णकार पिता निरंजन स्वर्णकार उम्र 26 साल निवासी गली नंबर 13 बोकारो थाना चास जिला बोकारो झारखण्ड। 02. मुकेश कुमार पिता चिमनलाल उम्र 26 साल निवासी ग्राम सारन थाना सियारी जिला पाली राजस्थान। 03.देवेन्द्र सिंह पिता मोहन सिंह उम्र 20 साल निवासी ग्राम सारन थाना सियारी जिला पाली राजस्थान। 04.पप्पू सिंह उर्फ पप्सा पिता मोहन सिंह उम्र 31 साल निवासी ग्राम सारन थाना सियारी जिला पाली राजस्थान को पूर्व में गिरफ्तार कर उनके कब्जे से घटना से संबंधित 01 नग पिस्टल जप्त किया गया था।

राजवीर ने शूटर रोहित स्वर्णकार को क्वालालंपुर से मयंक सिंह का फोन आने के बाद दी थी। एएसपी क्राइम संदीप मित्तल ने बताया कि पूरा गैंग व्हाट्सएप से अजरबैजान (+994) एवं पुर्तगाल (+351) के नंबरों से एक दूसरे के संपर्क में रहता था, इसलिए ट्रेस कर पाना मुश्किल हो रहा था। पुलिस टीम द्वारा आरोपियों की पुलिस रिमांड प्राप्त कर संगठित अपराधिक गिरोह के सदस्यों की जानकारी प्राप्त करने के प्रयास किए जा रहे थे। रोहित स्वर्णकार से पूछताछ में उसने पिस्टल को सेंधवा, इंदौर, मध्यप्रदेश से प्राप्त करना बताया था। एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट की टीम द्वारा आरोपी रोहित स्वर्णकार के बताये अनुसार राजवीर सिंह चावला को बड़वानी, मध्यप्रदेश में लोकेट कर गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ में राजवीर सिंह चावला ने बताया कि वह अवैध रूप से पिस्टल बनाने एवं बिक्री का कार्य करता है। फेसबुक आईडी ‘मोंटू सिंह’ का उपयोग करके पिस्टल की फोटो अपलोड करता था और व्हॉट्सएप कॉलिंग के माध्यम से अवैध हथियार की बिक्री करता था। आरोपी द्वारा 35,000/- रुपये में रोहित स्वर्णकार को पिस्टल दी गई थी।

राजवीर सिंह को पकड़ने के लिए रायपुर क्राइम ब्रांच पिछले एक हफ्ते से मध्यप्रदेश के सेंधवा में डेरा डाले हुए थी। बड़वानी पुलिस की मदद भी ली गई थी, लेकिन पूरे आपरेशन को इतनी खामोशी से चलाया गया कि मध्यप्रदेश में मीडिया को भी राजवीर की गिरफ्तारी और उसे रायपुर लाए जाने तक भनक नहीं लगी। राजवीर ने फिलहाल पुलिस को बताया कि कुछ दिन पहले लारेंस गैंग के मयंक ने उससे कहा था कि रोहित नाम का युवक तुमसे मिलेगा, उसे पिस्टल दे देना। पेमेंट के बाद रोहित आया और पिस्टल-मैगजीन ले गया। फिलहाल पुलिस राजवीर का मोबाइल नंबर और अकाउंट छान रही है। वह बड़वानी में उमेट गांव का रहनेवाला है।

गिरफ्तार आरोपी:
राजवीर सिंह चावला पिता रमेश सिंह चावला उम्र 21 साल निवासी ग्राम उमेट गुरुद्वारा के पास थाना वरला जिला बड़वानी, सेंधवा (म.प्र.)

Related Articles

Back to top button
शिल्पा शेट्टी ने कही कुछ अनकही बातें